असम में NRC लागू करने पर मचा सियासी बवाल, राहुल गांधी ने कही ये बड़ी बात

असम में NRC को लागू करने के तरीके को लेकर राहुल गांधी ने सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किए हैं और इसे लेकर एक फेसबुक पोस्ट किया है। पोस्ट में राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से बेघर हुए लोगों की मदद करने की अपील की है।

असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर यानि NRC को लागू करने को लेकर सियासी बवाल मच गया है। ममता बनर्जी के बाद अब राहुल गांधी ने भी सवाल खड़े किए हैं। राहुल ने कहा कि एनआरसी को सही ढंग से लागू नहीं किया गया है, जिससे राज्य में लोगों के बीच असुरक्षा का माहौल पैदा हो गया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मामले को लेकर फेसबुक पोस्ट किया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि ” यूपीए सरकार ने 1985 के असम समझौते के तहत नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन की शुरुआत की थी। केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकार जिस तरह से इसे लागू करवा रही है, उससे एनआरसी का मकसद पूरा नहीं हो पाया। असम के कोने-कोने से खबर आ रही है कि भारतीय नागरिक एनआरसी ड्राफ्ट में अपना नाम खोज रहे हैं, जिससे राज्यभर में असुरक्षा का माहौल है”। इसके साथ ही राहुल गांधी ने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वो असम के परेशान लोगों की मदद करें।

कांग्रेस के अलावा तृणमूल कांग्रेस, आरजेडी, लेफ्ट,आईएमआईएम और एआईयूडीएफ ने NRC लागू करने के तरीके को लेकर सरकार की मंशा पर सवाल उठाए हैं और सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। हालांकि गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में साफ किया कि अभी लोगों को नागरिकता साबित करने के लिए और भी मौके दिये जाएंगे।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: