राम मंदिर की सुनवाई टलने पर खट्टर के मंत्री ने कहा, महान है सुप्रीम कोर्ट, योगी बोले, ये अन्याय है

सुप्रीम कोर्ट द्वारा राम मंदिर की सुनवाई टालने पर हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने कोर्ट पर सवाल खड़े किए हैं। वहीं यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये अन्याय है।

मीडिया से बात करते हुए अनिल विज ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट महान है, जो चाहे वो करे। चाहे याकूब मेमन के लिए रात के 12 जे सुप्रीम कोर्ट को खोले, चाहे जो राम मंदिर का विषय है, जिस पर लोग टकटकी लगाकर देख रहे हैं उसको तारीख पर तारीख मिले। ये तो सुप्रीम कोर्ट की मर्जी।”

कई बीजेपी नेता राम मंदिर पर केंद्र सरकार से कानून बनाने की मांग कर रहे हैं। इस पर कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा कि चुनाव नजदीक है, इसलिए बीजेपी राम मंदिर का मुद्दा उठा रही है। उन्होंने कहा, “यह कोर्ट तय करेगा कि अयोध्या मामले की सुनवाई कब होगी। यह बीजेपी या कांग्रेस द्वारा तय नहीं किया जा सकता। अगर वे कानून बनाना चाहते हैं, तो बनाएं, कांग्रेस ने उन्हें नहीं रोका है। यह मुद्दा इसलिए उठाया गया है, क्योंकि चुनाव करीब आ गए हैं। वे पिछले चार साल से सो रहे थे क्या?”

जबसे सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर पर सुनवाई को टाला है, तबसे बीजेपी के नेता सुप्रीम कोर्ट पर सवाल खड़े कर रहे हैं। वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश में बहुसंख्यक समुदाय रामजन्म भूमि विवाद मामले पर सर्वोच्च न्यायालय के जल्द फैसले की रहा देख रहा है। उन्होंने कहा कि ‘न्याय मिलने में देरी अन्याय के समान’ है। सर्वोच्च न्यायालय द्वारा मामले की सुनवाई जनवरी 2019 तक टालने के बाद आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, “समय पर मिला न्याय, उत्तम न्याय माना जाता है लेकिन न्याय में देरी कभी-कभी अन्याय के समान हो जाती है।” उन्होंने कहा कि देश में बहुसंख्यक समुदाय और शांतिप्रिय लोग जल्द से जल्द फैसले और अपनी भावनाओं का सम्मान होने की राह देख रहे हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: