‘आप’ के खास मंत्री कैलाश गहलोत ने की 120 करोड़ रुपये की कर चोरी?

केजरीवाल सरकार में कैबिनेट मंत्री कैलाश गहलोत के यहां आयकर विभाग के छापे में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। गहलोत पर 120 करोड़ रुपये की कर चोरी का आरोप लगा है।

दिल्ली की ‘आम आदमी पार्टी’ की सरकार में खास मंत्री कैलाश गहलोत को लेकर जो खुलसे हुए हैं उसे सुनकर अच्छे-अच्छों के होश उड़ गए हैं। खबरों के मुताबिक, आयर विभाग के छापे के दौरान गहलोत के ठिकानों पर तलाशी में जो दस्तावेज सामने आएं हैं, उससे इस बात कि पुष्टि हुई है कि उन्होंने करीब 120 करोड़ रुपये की कर चोरी की है। आयकर विभाग सूत्रों ने बताया कि मंत्री के परिसरों से बरामद दस्तावेजों से जाहिर होता है कि कर्मचारियों और चपरासियों  कर्ज दिया गया है और अनेक फर्जी कंपनियों की हिस्सेदारी 70 करोड़ रुपये है।

खबरों के मुताबिक, आयकर विभाग के छापे में कर्मचारियों के नाम कई बेनामी जायदाद का पता चला है और एक ड्राइवर के नाम एक विशाल भूखंड है। आयकर विभाग को गहलोत द्वारा दुबई में जायदाद में निवेश करने का सबूत भी मिला है। यही नहीं आयकर विभाग को छापे में एक फर्जी कंपनी के निदेशक से कर्ज और करीब 20 करोड़ रुपये की प्रविष्टियों का पता चला है। इसके अलावा जनरल पावर ऑफ अटॉर्नी के माध्यम में जायदाद में बड़े पैमाने पर निवेश के साक्ष्य मिले हैं।

हालांकि विभाग इस मामले में कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं की है। आयकर विभाग ने बुधवार और गुरुवार को गहलोत और उनके परिवार के सदस्यों के वसंतकुज, पश्चिम विहार, नजफगढ़ और गुरुग्राम स्थित 16 आवासीय परिसरों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की तलाशी ली। गहलोत परिवहन, कानून, राजस्व, सूचना प्रौद्योगिकी और प्रशासनिक सुधार विभाग के मंत्री हैं।

गहलोत के आवासीय और व्यावसायिक परिसरों में आयकर विभाग की छापेमारी के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी मांगने की मांग की है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: