चीफ जस्टिस बनेंगे जस्टिस के.एम जोसेफ !, केंद्र सरकार ने मानी कॉलेजियम की सिफारिश

लंबे वक्त से सुप्रीम कोर्ट में जजों की नियुक्त को लेकर चल रहा विवाद अब जल्द खत्म होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र की मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की सिफारिशों को मान लिया है। इन सिफारिशों को मानने के बाद अब उत्तराखंड के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस के.एम जोसेफ का सुप्रीम का चीफ जस्टिम बनना लगभग तय हो गया है। जस्टिस जोसेफ के साथ ही मद्रास हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस इंदिरा बनर्जी उड़ीसा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश विनीत शरण को भी प्रमोट किया जा सकता है। खबरों के मुताबिक अगले हफ्ते ही राष्ट्रपति सचिवालय से नियुक्त का आदेश भी जारी हो सकता है। जस्टिस जोसेफ की नियुक्ति संबंधित सिफारिश सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली कॉलेजियम ने 10 जनवरी को की थी। तब से लेकर अब तक यह मामला अधर में लटका पड़ा था। इस दौरान सरकार ने कई बार कॉलेजियम की सिफारिश को नामंजूर भी किया था।

गौरतलब है कि जज के.एम जोसेफ का सबसे बड़ी अदालत में संभावित प्रमोशन रुका हुआ था। क्योंकि बीते दिनों न्यायमूर्ति जे. चेलमेश्वर के रिटायर होने के बाद प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय कॉलेजियम में न्यायमूर्ति ए. के. सीकरी शामिल किए गए थे। जबकि माना जा रहा था कि जोसेफ को चेलमेश्वर के रिटायर होने के बाद शामिल किया जाएगा। आपको बता दें कि जस्टिस जोसेफ उस बेंच के प्रमुख थे जिसने साल 2016 में जब मोदी सरकार ने उत्तराखंड में कांग्रेस सरकार को हटाकर राष्ट्रपति शासन लगा दिया था तब सुनवाई के दौरान कोर्ट ने मोदी सरकार के फैसले को खारिज कर दिया था।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: