चेन्नई: नम आंखों से करुणानिधि को दी गई विदाई, मरीना बीच पर हुआ अंतिम संस्कार

राजकीय सम्मान के साथ मरीन बीच पर एम करुणानिधि का अंतिम संस्कार। अंतिम संस्कार में कई राजनेता समेत लाखों की तादाद में लोग शामिल हुए।

एम करुणानिधि को पीएम मोदी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, रजनीकांत, कमल हसन समेत कई दिग्गजों ने श्रद्धांजलि दी। दिग्गज नेता के अंतिम दर्शन के लिए लाखों की संख्या में समर्थक पहुँचे। इस दौरान कई बार समर्थक बेकाबू भी हुए। उन्हें काबू में करने के लिए पुलिस को हल्का बल भी प्रयोग करना पड़ा।

हाइकोर्ट ने करुणानिधि की समाधि बनाने की इजाज़त दे दी है। डीएमके ने समाधि बनाने की इजाज़त देने की मांग की थी

करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने के लिए पीएम मोदी चेन्नई पहुंचे।

करुणानिधि के निधन पर बेटे स्टालिन ने भावुक चिट्ठी लिखी ”आप हमें अकेला छोड़ कर ऐसे थोड़ी न जा सकते हैं”

तमिलनाडु के राज्यपाल ने तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी। मरीना बीच पर समाधि बनाने के लिए ज़मीन देने के लिए हाइकोर्ट 8:30 बजे सुनवाई करेगा

मद्रास हाइकोर्ट सुबह 8 बजे सुनवाई करेगा।

 

डीएमके प्रमुख करुणानिधि का निधन हो गया है। 94 साल की उम्र में करुणानिधिन ने चेन्नई के कावेरी अस्पताल में अंतिम सांस ली। काफी दिनों से उनका इलाज कावेरी अस्पताल में चल रहा था, लेकिन उनकी हालत में सुधार नहीं हो रहा था। करुणानिधि के निधन से राजनीति के गलियारों में शोक की लहर दौड़ गई है। वहीं डीएमके कार्यकर्ताओं और करुणानिधि के चाहने वालों का रो-रोकर बुरा हाल है। जैसे ही यह खबर मिली कि करुणानिधि अब नहीं रहे। उनके चाहने वालों का कावेरी अस्पताल के बाहर तांता लग गया।

मरीना बीच पर करुणानिधि को दफ्नाने को लेकर रास्ता साफ

चेन्नई के मरीना बीच पर करुणानिधि को दफ्नाने को लेकर रास्ता साफ हो गया है। जिस वकील ने मरीना बीच पर करुणानिधि के दफ्नाने पर रोक लगाने को लेकर याचिका दायर की थी, उन्होंने अपनी याचिका वापस ले ली है। मीडिया से बात करते हुए वकील दुरईस्वामी ने कहा कि उन्होंने अपनी याचिका वापस ले ली है। ऐसे में करुणानिधि के शव को मरीना बीच पर दफ्नाने को लेकर सारी बाधाएं खत्म हो गई हैं।

मरीना बीच पर करुणानिधि की समाधि के लिए उनके समर्थकों ने आवाज उठाई

बिहार सरकार ने करुणानिधि के निधन पर 2 दिन का राजकीय शोक घोषित किया

पश्चिम बंगाल की सीएम करुणानिधि के अंतिम दर्शन के लिए उनके घर पहुंचीं

चेन्नई में करुणानिधि के आवास पर पहुंचे रजनीकांत

चेन्नई में करुणानिधि के अंतिम दर्शन के लिए बड़ी हस्तियों का तांता लगा हुआ है। कुछ ही देर पहले राजनीकांत करुणानिधि के अंतिम दर्शन के लिए उनके निवास पर पहुंचे हैं।

तमिलनाडु सरकार के वकील हाईकोर्ट चीफ जस्टिस के घर पहुंचे

तमिलनाडु सरकार के वकील मद्रास हाईकोर्ट के कार्यवाहक चीफ जस्टिस के घर पहुंच गए हैं। थोड़ी ही देर में इस बात पर हाई कोर्ट का फैसला आएगा कि मरीना बीच पर करुणानिधि की समाधि के लिए जमीन दी जाए या नहीं। सभी की निगाहें हाई कोर्ट के फैसले पर टिकी हुई हैं।

कावेरी अस्पताल के बाहर तोड़फोड़

मरीना बीच पर करुणानिधि की समाधि बनाने के लिए तमिलनाडु सरकार द्वारा जमीन देने से मना करने पर डीएमके के कार्यकर्ता गुस्से में हैं। चेन्नई में कावेरी अस्पताल के बाहर करुणानिधि के समर्थकों ने तोड़फोड़ की।

करुणानिधि का पार्थिव शरीर उनके गोपालपुरम स्थित आवास पर पहुंच गया है। आवास के बाहर डीएमके समर्थकों का तांता लग गया है।

मद्रास हाई कोर्ट आज रात 10:30 बजे मरीना बीच पर करुणानिधि की समाधि बनाने पर सुनवाई करने को तैयार है। बता दें कि तमिलनाडु सरकार ने मरीना बीच पर करुणानिधि की समाधि बनाने के लिए जमीन देने से इनकर कर दिया था, इसी पर सुनवाई होनी है।

करुणानिधि के निधन पर तमिलनाडु सरकार ने बुधवार को एक दिन का राजकीय शोक घोषित किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत देश के सभी बड़े नेताओं ने करुणानिधि के निधन पर गहरा शोक जताया है।

करुणानिधि के निधन पर दुख जताते हुए पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “करुणानिधि के निधन से बेहद दुखी हूं। वे भारत के सबसे वरिष्ठ नेताओं में से एक थे। हमने जमीन से जुड़े जननायक को खो दिया। महान विचार और लेखक को खो दिया। उनका जीवन गरीब और वंचित लोगों के लिए समर्पित था।”

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने करुणानिधि के निधन पर दुख जताते हुए ट्विटर पर लाख, “तमिलों के प्रिय कलैगनार 6 दशक से ज्यादा समय तक तमिलनाडु की राजनीति में रहे। उनके निधन से भारत ने अपने महान बेटे को खो दिया है। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: