यात्रीगण कृप्या ध्यान दें ! मुगलसराय जंक्शन अब पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन है, ये है नाम बदलने की मुख्य वजह

देश के बड़े रेलवे स्टेशनों में से एक मुग़लसराय का नाम आज से बदल जाएगा। इस मौके पर मुगलसराय में आज एक बड़े कायक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में रेल मंत्री पीयूष गोयल, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत बीजेपी के कई बड़े नेता मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम में रेल मंत्री यहां के लोगों को कई सौगात देने का ऐलान भी कर सकते हैं। गोयल मुग़लसराय के मार्शिलिंग यार्ड को स्मार्ट यार्ड बनाने और आधुनिक सिग्नल रूट रिले इंटरलाकिंग प्रणाली बनाने का ऐलान करेंगे। आज से हफ्ते में 2 दिन चलने वाली एकात्मता एक्सप्रेस को हरी झंडी भी दिखाई जाएगी।

नाम बदलने की ये है वजह
RSS नेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय जनसंघ के अध्यक्ष थे
उनका शव मुग़लसराय रेलवे जंक्शन पर मिला था
दीनदयाल उपाध्याय 11 फरवरी 1968 को मृत पाए गए थे
तभी से RSS की मंशा स्टेशन का नाम बदलने की थी
पिछले साल योगी आदित्यनाथ ने सीएम बनने के बाद नाम बदलने का सुझाव केंद्र को भेजा
केंद्र सरकार ने राज्य सरकार के नाम बदलने के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया

1862 में बना मुगलसराय स्टेशन देश का चौथा सबसे बिजी रेलवे स्टेशन है। रेलवे स्टेशन यूपी के चंदौली जिले में पड़ता है। मुग़लसराय जंक्शन का नाम बदले जाने का जब फैसला हुआ था। तब विपक्षी दलों ने संसद से लेकर सड़क तक विरोध किया था। अब मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलने पर इस पर सियासत गर्म होना तय है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: