सचिन तेंदुलकर ने खुद पर लगे आरोप पर सफाई दी है

क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर ने खुद पर आर्थिक मदद लेने का आरोप पर सफाई दी है। उन्होंने हितों के टकराव के आरोप से इनकार किया है।

सचिन ने सफाई में कहा कि उन्होंने IPL की फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस से कभी भी किसी भी तरह की कोई आर्थिक मदद नहीं ली है। फ्रेंचाइजी के किसी भी फैसले में उनकी कोई भूमिका नहीं है। तेंदुलकर ने रविवार को BCCI के लोकपाल डीके जैन के भेजे नोटिस का लिखित जवाब देते हुए 14 बिंदुओं का जिक्र किया।

तेंदुलकर ने अपने जवाब में लिखा, ”सबसे पहले मैं(नोटिस प्राप्तकर्ता) सभी शिकायतों को खारिज करता हूं। मैंने संन्यास लेने के बाद से मुंबई इंडियंस से टीम ‘आइकॉन’ की क्षमता में कोई फायदा नहीं लिया है। मैं किसी भी भूमिका में फ्रेंजचाइजी के लिए कार्यरत नहीं हूं। मैं किसी भी पद पर नहीं हूं, ना ही कोई फैसला लिया है। बीसीसीआई के नियमों के तहत यहां किसी भी तरह से हितों का टकराव नहीं हुआ है।”

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के सदस्य संजीब गुप्ता ने ई-मेल भेजकर बीसीसीआई के लोकपाल से शिकायत की थी। अपनी शिकायत में उन्होंने कहा था कि सचिन तेंदुलक मुंबई इंडियंस के मेंटर और BCCI की क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य के तौर प दोहरी भूमिका निभा रहे हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: