जुमे की नमाज से पहले उत्तर प्रदेश के कई जिलों में इंटरनेट बंद, ये है वजह

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर शुरू हुआ बवाल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। सरकार की सफाई के बाद भी प्रदर्शन खत्म नहीं हो रहा। उत्तर प्रदेश में विरोध-प्रदर्शन के दौरान कई जगहों पर हिंसा की खबरें भी लगतार आ रही हैं।

हालांकि ज्यादातर जगहों पर हालात सामान्य हो रहे हैं और इसे बनाए रखने के लिए यूपी प्रशासन की तरफ से 27 दिसंबर को जुमे की नमाज से पहले आठ जिलों में इंटरनेट बंद कर दिया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जिन शहरों में इंटरनेट बंद किया गया है उसमें सहारनपुर, मेरठ, आगरा, बुलंदशहर, गाजियाबाद और बिजनौर हैं। राज्य प्रशासन ने सभी जिलों के डीएम को यह छूट दे रखी है, अगर मामला संवेदनशील और सांप्रदायिक तनाव की संभावना है तो एहतियात के तौर पर अपने इलाके में इंटरनेट को बंद करा सकते हैं।

गृह सचिव के मुताबिक जिलाधिकारी को 3 दिनों तक एहतियातन इंटरनेट बंद कराने का अधिकार दिया गया है। आपको बता दें कि पिछले शुक्रवार को भी राजधानी लखनऊ समेत सूबे क 15 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी, वहीं जुमे की नमाज को देखते हुए अलीगढ़ में अलर्ट जारी किया गया था। उस दौरान इंटरनेट के अलावा एसएमएस और मैसेंजर सेवा भी बंद कर दी गई थी।

उत्तर प्रदेश में CAA के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शन मामले में पुलिस ने अब तक 327 FIR दर्ज की है। 1113 लोगों को गिरफ्तार किया गया और 5558 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। हिंसा की वजह से अब तक प्रदेश में 19 लोगों की मौत हो चुकी है।

इस दौरान पथराव और आगजनी में 288 पुलिसकर्मी घायल हुए। जिनमें से 61 पुलिसकर्मियों को गोली लगी। पूरे मामले की जांच के लिए SIT का गठन कर दिया गया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: