उत्तर प्रदेश: 300 विधायक योगी सरकार के हैं खिलाफ, अखिलेश यादव ने किया दावा

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन जारी है। उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा प्रदर्शन हो रहे हैं।

प्रदेश में हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच विपक्ष की ओर से बड़ा दावा किया गया है। दावे के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार खतरे में है। यही वजह है कि यहां सबसे ज्यादा विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। ये दावा समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा में 200 से ज्यादा बीजेपी विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ धरने पर बैठ गए थे। उन्होंने कहा कि करीब 300 विधायक योगी सरकार के खिलाफ हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि जानबूझकर प्रदेश में बवाल खड़ा किया जा रहा है, ताकि लोगों का ध्यान मुद्दों से भटकाया जा सके। लखनऊ में सपा मुख्यालय में पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी के लोग समाज में भेदभाव बढ़ाकर उसका फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था आईसीयू में पहुंच गई है और इनके पास देश को दिखाने के लिए कुछ नहीं है, यही वजह है कि वो समाज में एक दूसरे को लड़वाना चाहते हैं और ध्यान भटकाना चाहते हैं।

एनपीआर और एनआरसी के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने कहा कि हम सरकार को कोई दस्तावेज नहीं दिखाएंगे। हम इसी देश के नागरिक हैं। बीजेपी के लोग बेरोजगारी और अर्थव्यवस्था से लोगों का ध्यान हटाने के लिए ये सब कर रहे हैं। गांवों में लोगों के पास दस्तावेज नहीं हैं वो कैसे प्रमाणित करेंगे कि वो इसी देश के रहने वाले हैं। उन्होंने कहा कि मैं अपना कोई भी दस्तावेज नहीं दिखाऊंगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: