उत्तराखंड: पहाड़ों में रेल दौड़ने का सपना जल्द होगा पूरा! रेलवे ने 26 दिन में पहाड़ों में सुरंग बनाकर रिकॉर्ड किया कायम

रेलवे ने सिर्फ 26 दिन में पहाड़ों में सुरंग बनाकर एक रिकॉर्ड बना दिया है। 16 हजार 216 करोड़ रुपये के इस रेल प्रोजेक्ट में ऋषिकेश के शिवपुरी से ब्यासी तक के बीच एक सुरंग बनाई गई है।

देश की जानी-मानी कंपनी एल एंड टी ने महज 26 दिन के भीतर पहाड़ों को चीरकर एक किलोमीटर से ज्यादा की सुरंग बनाकर नया रिकॉर्ड कायम किया है। इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रेल विकास निगम के साथ इस प्रोजेक्ट पर काम कर रही कंपनी की भी तारीफ की है। इस सुरंग के बनने के साथ ही उत्तराखंड में त्रषिकेश से लेकर कर्णप्रयाग तक रेलवे मार्ग के काम में तेजी आ गई है।

रेलवे के इस प्रोजेक्ट को लेकर पुष्कर सिंह धामी ने कहा, ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे लाइन का कार्य टीम ने कठिन भौगोलिक परिस्थितियों के बावजूद केवल 26 दिनों में शिवपुरी से ब्यासी के मध्य 1,012 मीटर एनेटीएम (न्यू आस्ट्रियन टनलिंग मेथड) टनलिंग को पूरा करके एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है।

दरअसल, उत्तराखंड में रेल प्रोजेक्ट-2 में 12 नए रेलवे स्टेशन और 17 नई सुरंगें बनाई जानी हैं। इनमें से 8 मीटर व्यास वाली 11 सुरंगों की लंबाई छह किलोमीटर से ज्यादा है। इन सुरंगों में 6 मीटर व्यास की निकासी सुरंग भी शामिल हैं। इस प्रोजेक्ट में अब तक 35 किलोमीटर से ज्यादा सुरंगें बनाई जा चुकी हैं।

गौरतलब है कि 125 किलोमीटर लंबे प्रोजेक्ट के तहत देवप्रयाग, टिहरी गढ़वाल और कर्णप्रयाग आपस में जोड़े जाएंगे। जिसमें 100 किलोमीटर रेल लाइन सुरंगों के भीतर ही होगी। वहीं दूसरी ओर केंद्र की सरकार ने विकास की गति को बढ़ाते हुए यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम यानी चारधाम यात्रा को भी रेलवे लाइन से जोड़ने पर भी काम शुरू कर दिया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: