उत्तराखंड: रक्षा बंधन से पहले हादसे से कोहराम, मलबे में दबकर 3 भाई-बहनों की मौत, घर में पसरा मातम

रक्षा बंधन से ठीक पहले उत्तराखंड के ऋषिकेश-गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर हिंडोलाखाल में हादसे से कोहराम मच गया है।

ऑल वेदर रोड का पुश्ता टूटकर एक दो मंजिला मकान के ऊपर गिरने से तीन भाई-बहनों की दर्दनाक मौत हो गई है। जिस समय ये हादसा हुआ उस समय कमरे में तीनों भाई-बहन सो रहे थे। मलबे में दबकर तीनों की मौत हो गई। इस दौरान पत्थरों की चपेट में आने से उनके पिता धर्म सिंह घायल हो गए। रक्षा बंधन से ठीक पहले तीन भाई-बहनों की मौत से घर में मातम पसर गया है।

हादसे के बाद मौके पर कोहराम मच गया। परिवार वालों ने शोर मचाकर आस-पास के लोगों को मदद के लिए बुलाया। मौके पर पहुंचे गांववालों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम ने मलबे से तीनों भाई-बहनों के शवों को निकाला। मृतकों में धर्म सिंह के दो बच्चे और उनके साडू की एक बेटी शामिल है।

बताया जा रहा है कि शुक्रवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे हिंडोलाखाल के खेड़ागाड गांव में ये हादसा हुआ। धर्म सिंह शौच के लिए मकान से बाहर निकले ही थे। इसी दौरान हादसा हुआ और उनके दो मंजिला मकान के ऊपर ऑलवेदर रोड का पुश्ता मलबे के साथ आ गिरा। इस दौरान कमरे में सो रहे तीनों भाई-बहनों को बाहर आने तक का मौका नहीं मिल पाया। पलभर में ही धर्म सिंह नेगी का पुत्र अंकित (18) और विनीता (25) के साथ ही उनके साडू देवली निवासी (नरेंद्रनगर) कमल सिंह की लड़की नीलम (18) की मलबे में दबने से मौत हो गई। 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: