उत्तराखंड की धरती पर होने वाला है सबसे बड़ा सैन्य ‘युद्ध’, भारत और इस देश के सैनिक लड़ेंगे

भारत और कजाकिस्तान का संयुक्त युद्ध अभ्यास गुरुवार से शुरू होगा। ये युद्धाभ्यास उत्ताखंड के पिथौरागढ़ में सेना के मैत्री मैदान में होगा। मिलिट्री एक्सरसाइज के लिए कजाकिस्तान के 60 सैनिकों का दल पिथौरागढ़ पहुंच चुका है।

इस युद्ध अभ्यास में करीब 200 सैनिक हिस्सा लेंगे। इंडिया की तरफ से दो राजपूत रेजीमेंट जोशीमठ के जवान युद्धाभ्यास में शामिल होंगे। एक्सरसाइज की शुरुआत 3 अक्टूबर को सुबह साढ़े 11 बजे होगी। सबसे पहले उद्घाटन किया जाएगा। इसके बाद हथियारों और उपकरणों का प्रदर्शन किया जाएगा। ये युद्ध अभ्यास 14 अक्टूबर तक चलेगा। इस दौरान हर दिन अलग-अलग तरह की मिलिट्री एक्सरसाइज होगी।

मिलिट्री एक्सरसाइज के दौरान दोनों देशों के सैनिक आतंकी घटनाओं से निपटने का भी अभ्यास करेंगे। सैनिकों को जंगल, पहाड़ियों और घरों में छिपे उग्रवादियों और आतंकियों को मार गिराने का ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके साथ ही जवानों को विषम भौगोलिक परिस्थितियों में आतंकी घटनाओं से खुद की रक्षा करने की भी जानकारी दी जाएगी।

ये सैन्य युद्ध अभ्यास ना केवल जवानों को आंतकियों से हर हालात में लड़ने की ट्रेनिंग देगा, बल्कि संयुक्त सैन्य अभ्यास दोनों देशों के बीच आपसी रक्षा सहयोग को बढ़ाएगा। इसके साथ ही दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को प्रगाढ़ बनाने में मददगार साबित होगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: