कांवड़ा यात्रा 2021: सावन शुरू होते ही हरिद्वार पहुंचे 14 कांवड़िए, पुलिस ने किया क्वारंटीन

कोरोना महामारी के मद्देनज़र सरकार ने इस बार कांंवड यात्रा को स्थगित कर दिया है। फैसले को अमल करवाने के लिए पुलिस प्रशासन भी हरिद्वार में मुस्तैद है।

बावजूद इसके सावन के पहले दिन ही  हरियाणा के 14 कांवड़िए न केवल हरकी पैड़ी तक पहुंचे, बल्कि सामूहिक रूप से बम बम भोले के जयकारे लगा रहे थे। पुलिस ने उनको पकड़कर 14 दिनों के लिए प्रेमनगर आश्रम में क्वारंटीन कर दिया है। पुलिस ने कांवड़ियों की वेशभूषा बेचने वाले दो फेरी दुकानदारों पर भी कार्रवाई की है। इस बार भी कांवड़ मेला स्थगित है। बावजूद इसके कांवड़िए हरकी पैड़ी पहुंच रहे हैं। सावन के पहले दिन रविवार को हरकी पैड़ी क्षेत्र में कांवड़ वेशभूषा पहन बम-बम भोले के नारे लगाने वाले 14 कांवड़ियों को पुलिस ने पकड़ा है।

इनके नाम बृजमोहन यादव, सूरज, अंशुल, अमन, विकास पांडे, भानु सिंह, प्रमोद साहू, ओमवीर, धर्मेश, प्रदीप, सुशील, शैलेश कुमार, अरविंद कुमार, अंकुर शर्मा निवासी कुंडली सोनीपत हरियाणा हैं। इनके खिलाफ आपदा अधिनियम के तहत मुकदमा भी दर्ज किया गया है। नगर कोतवाल राजेश शाह ने बताया कि कांवडियों पर नजर रखी जा रही है। दूसरे प्रदेशों में पुलिस टीमें भेजकर वहां की पुलिस की मदद से लोगों को कांवड़ मेला स्थगित होने की जानकारी दी जा रही है।

कांवड़ यात्रा स्थगित होने के बाद कांवड़ मेला जोन अधिकारी हरीश वर्मा ने नारसन बॉर्डर का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने बाहरी राज्यों से कांवड़ लेने आने वालों को बॉर्डर से ही वापस लौटाने के निर्देश दिए। साथ ही नियम का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई करने की बात कही।

कांवड़ यात्रा स्थगित होने के बाद बाहरी राज्यों से कांवड़ लेने लोग हरिद्वार न आएं, इसके लिए सभी बॉर्डरों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। रविवार से सावन माह का पहला दिन शुरू हो गया है। ऐसे में रविवार की सुबह कांवड़ मेला जोन अधिकारी हरीश वर्मा ने नारसन बॉर्डर का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने हर आने-जाने वाले वाहनों की जांच करने के निर्देश दिए। साथ ही 72 घंटे की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट देखने के बाद ही सीमा में प्रवेश देने की बात कही।

उन्होंने कहा कि अगर बाहरी राज्यों से लोग कांवड़ लेने आते हैं तो उन्हें बॉर्डर पर ही रोककर वापस भेजने की अपील करें। अगर कोई नहीं मानता है तो कार्रवाई करें। इस दौरान सीओ मंगलौर पंकज गैरोला, सीओ एके शर्मा, मंगलौर कोतवाली प्रभारी यशपाल सिंह बिष्ट और नारसन चौकी प्रभारी लोकपाल परमार आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: