उत्तराखंड: सीएम धामी ने धारचूला में आपदा प्रभावित क्षेत्रों का किया निरीक्षण, बताया- इलाके में कितनी मची है तबाही

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने धारचूला आपदा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण के बाद पीड़ितों से मुलाकात की।

निरीक्षण के बाद सीएम धामी ने कहा, “काफी नुकसान हुआ है। कोकिला गांव के 58 परिवार के मकान पूरी तरह से प्रभावित हुए हैं। एल धारा में भूस्खलन हुआ है, उससे धारचूला शहर में मलबा आ गया है, काफी घर उसकी जद में आ गए हैं। हम लोग यहां पुनर्वास की व्यवस्था की बात कर रहे हैं। आपदा राहत के काम भी करेंगे।”

धारचूला के तल्ला खोतिला गांव में बादल फटने के कारण हुए जलभराव में 50 मकान ढूब गए हैं। घटना में 65 वर्षीय महिला पशुपति देवी पत्नी मानबहादुर की मौत हो गई है। जिसके शव को रेस्क्यू कर लिया गया है। वहीं एलधारा में लगातार हो रहे भूस्खलन के कारण धारचूला के मल्ली बाजार सड़क में पानी और मलबा भर गया है। सड़क पर खड़े कई वाहन भी मलबे की चपेट में आए हैं। जिला प्रशासन, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, फायर यूनिट की टीमों द्वारा लगातार राहत एवं बचाव कार्य किया जा रहा है।

प्रशासन द्वारा प्रभावित क्षेत्र के लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है। तथा उनके खाने-पीने और रहने की उचित व्यवस्था की जा रही है। धारचूला में काली नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। जिससे भारत-नेपाल झूलापुल के निकट गौशाला के क्षतिग्रस्त होने तथा कुछ जानवरों के बहने की सूचना भी आ रही है। प्रशासन ने लोगों को नदी किनारे ना जाने को अलर्ट किया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: