उत्तराखंड: रुड़की और लंढौरा में सात हजार लोग होम क्वारंटीन, जरूरी सामानों की होगी होम डिलीवरी, इस तरह मंगवा सकते हैं सामान

रुड़की में एक लड़की और लंढौरा में एक लड़के की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद करीब सात हजार लोगों को होम क्वारंटीन कर दिया गया है।

रुड़की के सती मोहल्ले में लड़की रिपोर्ट गुरुवार शाम पॉजिटिव आई थी। जबकि लंढौरा में एक लड़का अपने भाई के साथ चोरी-छिपे मुंबई से 18 मई को आया था। स्वास्थ्य विभाग ने दोनों के सैंपल जांच को भेजे थे। दोनों में कोरोना की पुष्टि होने के बाद शुक्रवार को पुलिस-प्रशासन ने इलाकों को सील कर दिया। रुड़की सती मोहल्ले की आबादी करीब 2 हजार है। जबकि लंढौरा के मतावाली मोहल्ले की आबादी पांच हजार के करीब है। होम क्वारंटीन का उल्लंघन करने पर पुलिस-प्रशासन ने लोगों सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी है।

खबरों के मुताबिक रुड़की के सती मोहल्ले में पुलिस जब गलियों को सील कर रही थी। वहां के स्थानी पार्षद ने पुलिस को बैरिकेंडिंग नहीं करने पर को कहा। इस दौरान उनकी पुलिसवालों से बहस भी हुई। पुलिस ने हिदायत देते हुए पार्षद को ताकीद कर दिया कि अगर उन्हें अपना काम नहीं करने दिया गया तो वो उन्हें जेल भेज देंगे।

जिला अधिकारी ने कंटेनमेंट जोन में स्थानीय प्रशासन ने जरूरी सामान जरूरतमंदों को पहुंचाने का निर्देश दिया है। साथ ही इलाके को सैनेटाइज करने के साथ ही लाउड स्पीकर से लोगों को जागरुक करने को कहा है। आपको बता दें कि कोरोना के मामले सामने आने पर डीएम सी रविशंकर ने रुड़की के सती मोहल्ला और मोहम्मदपुर व लंढौरा के एक क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।

आपको बता दें कि उत्तराखंड प्रशासन की तरह से लोगों की मदद के लिए संजीवनी एप्प बना रखा है। आप इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इसके जरिये आप नगर निगम से राशन की होम डिलीवरी के साथ जरूरी दवाएं भी मंगा सकते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: