उत्तराखंड: कोरोना काल में भी एक दूसरे को घेरने का मौका नहीं छोड़ रही भाजपा-कांग्रेस, BJP ने रखा मौन व्रत, कांग्रेस उपवास पर

उत्तराखंड इस समय बेशक कोरोना जैसी बड़ी महामारियों से जूझ रहा हो, लेकिन विधानसभा चुनावों को देखते हुए दोनों प्रमुख सियासी पार्टियां भाजपा और कांग्रेस में एक-दूसरे को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रही।

रोचक बात यह है कि दोनों दल के अगुवा एक दूसरे के खिलाफ एक ही चाल भी चल रहे हैं। एक दल का नेता किसी मुद्दे पर मौन व्रत रखने का एलान करता है तो दूसरे दल का नेता भी उसी मुद्दे पर मौन व्रत की घोषणा करता है।

एक दल दूसरे की बुद्धि-शुद्धि के लिए हवन-यज्ञ करने की बात करता है तो पलट वार करते हुए दूसरा दल भी यही कर रहा है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कोरोना से जंग में जनता के साथ आने और उसे सद्बुद्धि के लिए प्रदेश मुख्यालय में सांकेतिक मौन व्रत रखा।

भाजपा अध्यक्ष कौशिक ने कहा कि यह समय राजनीति का नहीं बल्कि जनता के बीच जाकर उनके दुःख दर्द और परेशानी में मदद करने का है। लेकिन कांग्रेस व्यवस्थाओ में खामिया निकाल कर राजनीति कर रही है। प्रदर्शन में मशगूल है। कोरोना से जंग जीतने के बाद वह धरना, प्रदर्शन, पोस्टर के लिए पूरे समय का सदुपयोग कर सकते हैं। हालांकि उनके बड़े नेता भी उनको इस समय जनता के बीच खड़े कोरोना के खिलाफ लड़ने का आग्रह कर चुके हैं।

कौशिक ने कहा कि यह लड़ाई उत्तराखंड के साथ साथ पूरा देश लड़ रहा है उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने जब सर्वदलीय बैठक बुलाई थी तो उस समय सभी दलों ने आश्वस्त किया कि कोरोना की लड़ाई सबको मिलकर लड़नी है और उसके दो दिन बाद ही कांग्रेस ने जनता के बीच जाने और मिलजुलकर लड़ने के बजाय तल्ख तेवर दिखाने शुरू कर दिये।

उन्होंने कहा कि टेस्ट और इलाज,आंकड़ों के नाम पर भी कांग्रेस भ्रामक स्थिति उतपन्न कर रही है। कोरोना के आंकड़े सरकार के नही आइसीएमआर के द्वारा जारी किए जाते हैं। यह सरकार के आंकड़े नहीं है। विपक्ष भय का वातावरण लोगो के बीच बना रहा है।

उत्तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने उत्तराखंड की बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर भाजपा सरकार की बुद्धि-शुद्धि के लिये सांकेतिक उपवास रखा। इस दौरान प्रीतम सिंह ने कहा प्रदेश सरकार को कोरोना और ब्लैक फंगस जैसी बीमारियों को लेकर हर तैयारी करनी चाहिए थी लेकिन जितनी तैयारी होनी चाहिए उसकी 10% भी सरकार नहीं कर पाई है।

उनके अनुसार सरकार ने आम जनता को मरने के लिए छोड़ दिया है। उनके अनुसार कांग्रेस को प्रदेश की आम जनता की जान की चिंता है इसलिए लगातार लोगों को राहत देने की कोशिश कांग्रेस कर रही है वहीं बीजेपी के नेता महज राजनीति करने के अलावा और कुछ काम नहीं कर रहे हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: