उत्तराखंड: 1 अक्टूबर को पीठसैंण में आयेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वीर चंद्रसिंह गढ़वाली की मूर्ति का करेंगे अनावरण

पेशावर कांड के नायक और स्वतंत्रता सेनानी वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की पुण्य तिथि पर एक अक्टूबर को केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पीठसैंण आयेंगे।

केन्द्रीय रक्षा मंत्री वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली के पैतृक गांव में उनकी स्मृति में मूर्ति का अनावरण एवं स्मारक का लोकार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। इसके अलावा राजनाथ सिंह सहकारिता विभाग के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा संचालित दीनदयाल उपाध्याय योजना के तहत रूपये पांच लाख तक के ब्याज मुक्त ऋण के चैक महिला स्वयं समूहों को वितरित करेंगे, साथ ही राठ विकास अभिकरण के तत्वाधान घसियारी कल्याण योजना शुभारम्भ कर स्थानीय ग्रामीण महिलाओं को घसियारी किट भी देंगे।

कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने मीडिया को जारी एक बयान में कहा कि केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आगामी एक अक्टूबर को पेशावर कांड के नायक, स्वतंत्रता सेनानी और उत्तराखंड की महान विभूति वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की पुण्य तिथि पर पौड़ी जनपद स्थिति उनके पैतृक गांव पीठसैंण आयेंगे। डॉ. रावत ने बताया कि स्वाधीनता आंदोलन में वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली के योगदान को चिर स्मरणीय बनाये रखने के लिए उनके पैतृक गांव में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह उनकी मूर्ति का अनावरण करेंगे, इसके साथ ही उनके स्मारक का भी लोकार्पण केन्द्रीय मंत्री द्वारा किया जायेगा।

रावत ने बताया कि इस अवसर पर केन्द्रीय रक्षामंत्री राठ विकास अभिकरण के अंतर्गत संचालित घसियारी कल्याण योजना का शुभारम्भ भी करेंगे। इस योजना के तहत क्षेत्र की 25 हजार ग्रामीण महिलओं को घस्यारी किट वितरित की जाने की योजना है। जिसमें दो कुदाल, दो दारांती, रस्सी, एक टिफिन बॉक्ट, पानी की बोतल और एक किट बैग शामिल है। ग्रामीण महिलाएं अपनी रोजमर्रा के दौरान आवश्यकतानुसार इनका इस्तेमाल कर सकेंगी। इस योजना को लेकर स्थानीय महिलाओं में खासा उत्साह है। इसके अलावा सहकारिता विभाग के अंतर्गत दीनदयाल उपाध्याय योजना के तहत रक्षामंत्री द्वारा महिला समूहों को रूपये पांच लाख तक के ब्याज मुक्त ऋण के चैक वितरित किये जायेंगे। ताकि महिलाएं स्थानीय स्तर पर अपने स्वरोजगार को गति दे सके।

पेशावर कांड के नायक को याद करते हुए डॉ. रावत ने बताया कि स्वाधीनता आंदोलन के दौरान पेशावर में जब अंग्रेज अफसर ने निहत्थे पठानों पर गोली चलाने का हुक्म दिया तो वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली ने अंग्रेज अफसर के इस फरमान को मानने से इनकार कर दिया था। जिस कारण उन्हें जेल की सजा भुगतनी पड़ी। प्रदेश सरकार सैनिकों, भूतपूर्व सैनिकों, शहीदों के आश्रितों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। कैबिनेट मंत्री डॉ. रावत ने बताया कि इस कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट, गढ़वाल संसाद एंव पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि प्रतिभाग करेंगे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: