उत्तराखंडः जागेश्‍वरधाम में BJP सांसद धर्मेंद्र कश्‍यप के अभद्रता प्रकरण के विरोध में मौन व्रत पर पर बैठे पूर्व CM हरीश रावत

उत्तर प्रदेश के आंवला से बीजेपी सांसद धर्मेंद्र कश्यप के जागेश्वर मंदिर में अभद्र व्यवहार व प्रबंधक से गालीगलौज प्रकरण पर सियासत भी गरमा गई है।

जागेश्वरधाम के इतिहास में पहली शर्मनाक घटना के बहाने कांग्रेस व अन्य दलों को बैठे बैठाए भाजपा के खिलाफ मुद्दा मिल गया। अल्मोड़ा के प्रसिद्ध धाम जागेश्वर मंदिर में पुजारियों संग भाजपा नेताओं द्वारा अभद्रता करने के मामले के विरोध में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत देहरादून में स्थित अपने आवास पर आज मौन-उपवास पर बैठें।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने जागेश्वरधाम की घटना को शर्मनाक बताते हुए मांग उठाई कि सांसद को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए। साथ ही उन्होंने सांसद कश्यप पर कार्रवाई की मांग भी की। भगवान भोले के धाम जागेश्वर में शनिवार को मंदिर समिति के प्रबंधक भगवान भट्ट और पुजारियों से गालीगलौज और अभद्रता आंवला (बरेली) के भाजपा सांसद धर्मेंद्र कश्यप को भारी पड़ गई।

भगवान भट्ट की तहरीर पर राजस्व पुलिस ने धर्मेंद्र कश्यप, उनके साथी मोहन राजपूत और सुशील अग्रवाल के खिलाफ मजिस्ट्रेट के आदेश का उल्लंघन करने पर धारा 188 और गालीगलौज, अभद्रता करने पर धारा 504 के तहत प्राथमिक दर्ज कर ली है। अल्मोड़ा एसडीएम ने इसकी पुष्टि की है। सांसद के अमर्यादित आचरण के विरोध में सोमवार को कुमाऊं में कई जगहों पर लोगों ने प्रदर्शन किया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: