उत्तराखंड के इस इलाके में जमीन के नीचे छिपा है प्राकृतिक गैस और तेल भंडार?

उत्तराखंड के उत्तरकाशी के पुरोला क्षेत्र में जमीन के नीचे प्राकृतिक गैस और तेल भंडार होने की संभावना है।

प्राकृतिक गैस और तेल भंडार की संभावनाओं को देखते हुए ओएनजीसी की एक बड़ी टीम रवाईं घाटी और आसपास के इलाकों में सर्वेक्षण का काम में जुटी हुई है। ओएनजीसी के साथ अल्फा जिओ इंडिया लिमिटेड की टीम भी लगी हुई है। इलाके में ये टीम जगह-जगह ड्रिल कर रही है और प्राकृतिक गैस और तेल भंडार के बारे में पता लगा रही है।

प्राकृतिक गैस और तेल खोजने के अभियान में जुटी कंपनी के एक कर्मचारी ने बताया कि उत्तराखंड की तलहटी वाले इलाकों में 2डी अवसादीय चट्टानें मौजूद हैं, जिनमें एक्सप्लोरेशन के चलते यहां हाईड्रोकार्बन और प्राकृतिक गैस और तेल पाए होने की संभावना है। यही वजह है कि ये अभियान चलाया जा रहा है।

कंपनी को इलाके में क्रूड ऑयल होने की संभावना है। इसे देखते हुए कंपनी प्रथम चरण का सर्वे कर रही है। इसके तहत हर 8 मीटर की दूरी पर शॉर्ट प्वाइंट और 20 मीटर दूरी पर 22 मीटर गहराई में रिसीवर प्वॉइंट ड्रिल किए जा रहे हैं।

कंपनी के कर्मचारी ने बताया कि इससे पहले हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में सर्वे किया गया था। अब रवाईं घाटी से ब्रह्मखाल होते हुए ऋषिकेश तक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इस अभियान में 7 टीमें लगी हुई हैं, जिसमें 250 कर्मचारी इस कार्य में जुटे हुए हैं। कर्मचारी ने बताया कि दूसरे चरण में कंपनी की तकनीकी टीम इलाके में सर्वेक्षण करेगी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: