उत्तराखंड: डीएम के काम से खुश हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अपने साथ काम करने के लिए बुलाया!

कुछ अधिकारी अपने काम से अपनी छाप छोड़ जाते हैं। बेहतरीन काम की बदौलत अपनी अलग जगह बनाते हैं और उस काम का उन्हें इनाम भी मिलता है। ऐसे ही एक काबिल उत्तराखंड के IAS है मंगेश घिल्डियाल।

मंगेश घिल्डियाल के काम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ऑफिस इतना प्रभावित हुआ कि उन्हें PMO में अपनी सेवाएं देने का ऑफर दे दिया। मंगेश अब PMO में अपनी सेवाएं देंगे। रुद्रप्रयाग में डीएम के पद पर रहते हुए मंगेश घिल्डियाल ने केदारनाथ पुनर्निर्माण प्रोजेक्ट में अहम भूमिका निभाई। पीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक को धरातल पर उतारने के लिए पीएमओ उन पर नजर बनाए रहा। अब जब वो प्रोजेक्ट पूरा हो गया तो, पीएमओ ने उन्हें दिल्ली काम करने के लिए ऑफर दे दिया। अब उत्तराखंड के काबिल अफसर मंगेश घिल्डियाल प्रधानमंत्री कार्यालय में सेवाएं देंगे।

पहाड़ की मिट्टी में पले-बढ़े IAS अधिकारी मंगेश घिल्डियाल पहाड़ों को कायदे से जानते और समझते हैं। पहाड़ों की हर समस्या से रूबरू हैं। यही वजह है कि उन्होंने जहां भी काम किया, वहां अपनी अमिट छाप छोड़ी। रुद्रप्रयाग में उन्होंने केदारनाथ में तो उन्होंने शानदार काम किया ही। इसके साथ ही महिलाओं को रोजगार देने के लिए कई प्रोजेक्ट शुरू किए। इसके अलावा कोरोना महामारी के दौर में जब स्कूल बंद हुए तो डीएम ने छात्रों के लिए मेरा मोबाइल, मेरा विद्यालय ऐप्प लॉन्च किया, ताकि बच्चे घर पर रहकर पढ़ाई कर सकें।

मंगेश घिल्डियाल अपने काम से अधिकारियों के बीच जितना चर्चित हैं, उतना ही जनता के बीच भी लोकप्रिय हैं। 24 घंटे आम लोगों के लिए उपलब्ध रहने वाले IAS मंगेश घिल्डियाल ने जिले को कई राष्ट्रीय पुरस्कार भी दिलाए। PMO में काम करने का मौका मिलने पर IAS मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि उन्हें जो भी जिम्मेदारी मिलेगी, उसे पूरी ईमानदारी और मेहनत से करेंगे और उम्मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करेंगे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: