Newsउत्तराखंड स्पेशल

उत्तराखंड: माइनस 8 डिग्री तापमान में सीमा की निगहबानी कर रहे जवान, चीन से टकराव की वजह से इस बार है खास तैयारी

उत्तराखंड में चीन के बॉर्डर पर माइन आठ डिग्री तापमान मेंं भी हमारे जवान सहरद की निगहबानी कर रहे हैं।

ठंड के मौसम ने देशभर में दस्तक दे दी है। मैदानी इलाकों में भले ही अभी सिर्फ सुबह और शाम को ही ठंड का एहसास हो रहा हो, लेकिन पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी भी शुरू हो गई है। हालत ये है कि तापमान माइन में चला गया है। रात को तापमान माइनस आठ डिग्री तक पहुंच रहा है। कड़ाके की ठंड के बावजूद जवान हमारी आपकी सुरक्षा के लिए डटे हुए हैं। चीन से चल रही तनातनी की वजह से इस बार पड़ोसी मुल्क से सटी सीमा पर चौकसी और कड़ी की गई है।

हर साल चीन सीमा पर तैनात सुरक्षा बल के जवान अक्टूबर-नवंबर तक अग्रिम चौकियों से निचली चौकियों में शिफ्ट हो जाते थे, लेकिन इस बार चीन से तनातनी को देखते हुए शीतकाल में भी जवान अग्रिम चौकियों में तैनात रहेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लिपुपास, नाभिढांग समेत दूसरे बॉर्डर वाले इलाके, जहां जवानों की तैनाती है, रसद की आपूर्ति कर दी गई है। हाड़ कंपाने वाली ठंड से सुरक्षा के लिए जवानों को खास पोशाकें भी उपलब्ध कराई गई हैं। आपको बता दें कि जनवरी में ऊंचे हिमालयी क्षेत्र में तापमान माइनस 25 डिग्री तक चला जाता है। अभी मिलम से लिपुलेख तक सुरक्षा बलों के जवान नियमित गश्त कर सीमा पर कड़ी नजर रखे हुए हैं।  

गौरलतब है कि गुरुवार को जिले की ऊंची चोटियों हंसलिंग, नग्निधूरा, पंचाचूली पर इस मौसम का तीसरा हिमपात हुआ। दिन में भी हिमालय बादलों से ढंका रहा। बादल छाए रहने, हिमपात और निचले इलाकों में ठंडी हवाएं चलने से ठंड महसूस की गई।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.