देहरादून में वोटर लिस्ट से बाहर हो जाएंगे 80 हजार मतदाता

राजधानी देहरादून में वोटर लिस्ट से 80 हजार मतदाताओं के नाम इस बार लिस्ट से गायब हो जाएंगे। वहीं 60-70 हजार लोगों के नाम वोटर लिस्ट में शामिल किया जाना बाकी है।

ऐसा प्रोजेक्ट पॉपुलेशन और मतदाताओं की संख्या में अंतर की वजह से किया जाना है। ये अंतर लगभग 15 हजार मतदाताओं का है। दरअसल देहरादून की प्रोजेक्ट पॉपुलेशन (18 साल से ज्यादा) 13,48,969 है। जबकि, अभी तक के आंकड़ों के मुताबिक मतदाताओं की संख्या 13,63,919 है। इसमें करीब 15 हजार का अंतर है।

वोटर्स और प्रोजेक्ट पॉपुलेशन का यह गणित डुप्लीकेट और शिफ्ट मतदाताओं की वजह से बिगड़ा है। अभी ये साफ नहीं हो पा रहा है कि यहां से कितने मतदाता गए और कितने नए लोग आए हैं?  जिला निर्वाचन अधिकारी के मुताबिक जांच-पड़ताल में यह बात क सामने आई है कि करीब एक लाख मतदाता ऐसे हैं जिनके नाम एक से ज्यादा जगहों पर दर्ज हैं। एक अनुमान के तौर पर इनमें से 80 हजार वोटरों के नाम मतदाता सूची से काटे जाने हैं। वहीं अलग-अलग उम्र के करीब 70 हजार लोगों के नाम लिस्ट में शामिल किए जाने हैं। आपको बता दें कि डुप्लीकेट मतदाताओं की पड़ताल के बाद दिसंबर-2019 में भी करीब 70 हजार लोगों के नाम काटे जा चुके हैं। अभी महिलाओं की संख्या का गणित भी फिट नहीं बैठ रहा है। प्रोजेक्ट पॉपुलेशन के मुताबिक एक हजार पुरुषों पर 902 महिलाएं हैं। जबकि, मौजूदा वक्त में फोटो वाली वोटर लिस्ट के मुताबिक यह संख्या केवल 887 है। इस 15 महिलाओं के अंतर को भी ठीक किया जाना है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: