Almoraउत्तराखंड

उत्तराखंड: बीएससी पास युवक ने मंदिर से चुराई 11वीं सदी की मूर्ति, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान!

अल्मोड़ा के द्वाराहाट के मशहूर भैरव मंदिर से 11वीं सदी के शिवलिंग चोरी होने के मामले में पुलिस ने खुलासा कर कर दिया है।

पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी से पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए हैं। मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी अल्मोड़ा पंकज भट्ट ने बताया कि आरोपी तारा सिंह राणा 10 फरवरी को बाल कटाने के बहाने से द्वाराहाट बाजार आया था। इस दौरान मंदिर में दर्शन करने के दौरान शिवलिंग के ऊपरी भाग को जोर लगाकर तोड़ दिया और बैग में रखकर गांव के स्कूल में ले जाकर छुपा दिया।

पुलिस ने आसपास का सीसीटीव फुटेज। इसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के पास से शिवलिंग समेत दूसरे भैरव मंदिर से चुराई गई चिमटा और भैरव की मूर्ति भी बरामद की गई है। एसएसपी ने बताया कि आरोपी तारा सिंह ने जब 11वीं-12वीं में पढ़ता था, तब से पैरों में काफी दर्द रहता था। दर्द ठीक करने के लिए स्थानीय मान्यता और आस्था के चलते वह भैरव बाबा की रोजाना पूजा करने लगा। इसके बाद भी जब समस्या का हल नहीं हुआ और ज्यादा तबीयत बिगड़ने लग।

परेशानी से मुक्ति नहीं मिलने पर वो गुस्सा हुआ और भैरव मंदिर के मूर्ति को फेंक देने का मन बनाया। गुस्से में आकर उसने एक जगह से मंदिर से शिवलिंग का ऊपरी भाग तोड़कर चोरी किया और दूसरी जगह से भैरव मंदिर की मूर्ति और चिमटे चोरी किए। पुलिस के मुताबिक, आरोपी बीएससी की पढ़ाई कर चुका है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.