HaridwarNewsउत्तराखंड

मौनी अमावस्या पर स्नान के लिए हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं के लिए अच्छी खबर!

मौनी अमावस्या स्नान के लिए गुरुवार को हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं के लिए अच्छी खबर है।

जिला प्रशासन ने अब बाहरी राज्यों के श्रद्धालुओं के लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट लाने और पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है। अब गुरुवार को सिर्फ स्नान के दौरान राज्य की सीमा पर बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं की रैंडम सैंपलिंग होगी। आपको बता दें कि मौनी अमावस्या पर उत्तर भारत से बड़ी संख्या में श्रद्धालु गंगा में डुबकी लगाने हरिद्वार पहुंचते हैं। कोरोना के प्रकोप को देखते हुए पहले प्रशासन ने श्रद्धालुओं को कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट लाने का निर्देश दिया था। साथ ही एक पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने को भी कहा गया था, लेकिन पिछले कुछ वक्त में कोरोना की रफ्तार काफी धीमी पड़ी है। जिसे देखते हुए प्रशासन ने इस अनिवार्यता को खत्म करने का फैसला किया।

स्नान को लेकर स्थानीय और मेला प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है। हरकी पैड़ी समेत सभी घाटों पर पुलिस बल तैनात कर दिया है। अपर रोड हरकी पैड़ी पुलिस चौकी के पास बैरीकेडिंग कर दी गई है। शिवमूर्ति चौक से आगे गाड़ियों को जाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। सिर्फ स्थानीय लोग और पासधारक ही आवाजाही कर सकेंगे। 

कब है स्नान का शुभ मुहूर्त?
धर्म गुरुओं के मुताबिक स्नान का शुभ मुहूर्त सुबह 5.30 बजे से 7.30 तक मकर लगन में होगा। जबकि इसके बाद दोपहर 1.30 वृष लगन है। जबकि सामान्य स्नान शाम तक चलता रहेगा। श्रद्धालु स्नान कर सूर्य की आराधना कर दान करेंगे। 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.