उत्तरकाशी के किसानों के सामने बड़ी संकट! भगवान भरोसे हैं अन्नदाता!

उत्तरकाशी के रवांई क्षेत्र में मटर की बुआई न होने से किसान बेहद मायूस हैं। दरअसल बीते तीन महीने से इस इलाके में बारिश नहीं हुई है।

बारिश नहीं होने से इसका असर फसलों पर दिख रहा है। अगर यही हाल नवंबर के पहले हफ्ते तक बना रहा है तो किसानों के लिए और मुश्किलें खड़ी हो जाएंगी। किसानों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो जाएगा।  

रवांई क्षेत्र के रामा और कमल सिरांई समेत नौगांव, बड़कोट, मोरी में समेत ज्यादातर इलाकों में किसान धान कटाई के बाद मटर की खेती करते हैं। मटर इस इलाके के किसानों का आर्थिकी का अहम जरिया है। अक्टूबर के आखिरी हफ्ते और नवंबर के पहले हफ्ते में किसान खेतों की जुताई कर मटर की बुआई करने की तैयारी करते हैं।

एक किसान ने कहा कि पहाड़ों में सिंचाई नहरों की सही व्यवस्था नहीं होने की वजह से उन्हें बारिश पर निर्भर रहना पड़ता है। जुलाई के महीने में भी इस बार अच्छी बारिश नहीं हुई। जुलाई से अब तक बारिश नहीं होने से खेतों में नमी नहीं है। यही वजह है कि किसान मटर की बुआई नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में किसानों की मांग है कि भौगोलिक परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए सिंचाई नहरों की व्यवस्था को ठीक किया जाए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: