उत्तराखंड: फिनलैंड की लकड़ी से बनी तीन मंजिला इमारत बनी लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र, जानिये इसकी खासियत

पहाड़ों से घिरे हुए उत्तराखंड की बहुत सी खासियत है। देवों की भू्मि कहे जाने वाले इस प्रदेश में बहुत कुछ देखने के लायक है।

बड़ी तादाद में पर्यटक यहां आते हैं। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार भी पूरी कोशिश कर रही है। इसी कड़ी में नैनीताल के बैजनाथ धाम में फिनलैंड की लकड़ी से एक इमारत बनाई गई है। जो देखने में बहुत की खूबसूरत है। इसकी खास बात ये है कि तीन मंजिला इस इमारत की सिर्फ छत टिन की है बाकी स्ट्रक्चर लकड़ी का ही है। स्थानीय प्रशासन का कहना है कि वुडेन हाउस विदेशी पर्यटकों को भी आकर्षित करेगा। करीब 12.50 करोड़ रुपये की लागत से इमरात का निर्माण पूरा हो गया है।

इस भवन के निर्माण के लिए फिनलैंड की चीड़ की लकड़ी का इस्तेमाल किया गया है। भवन का स्ट्रक्चर भी अपने आप में बहुत अनूठा है। इसमें एक साथ 200 यात्री ठहर सकेंगे। यहां ठहरने वाले लोगों के लिए खाने से लेकर उनकी गाड़ी के पार्किंग तक की सुविधा है। टीआरसी के ठीक पीछे बनी तीन मंजिला इमारत जहां विदेशी पर्यटकों को बहुत ही आकर्षित कर रही है। इस भवन में आठ कमरे, तीन हाल और किचन, रेस्टोरेंट का निर्माण पूरा हो गया है। पर्यटन सर्किट योजना के तहत यह निर्माण कार्य किया गया है।

1250 स्वायर वर्ग मीटर में बनी इस इमारत के एक कक्ष में करीब चार बेड हैं और यात्रियों के लिए इस भवन हर सुविधा से संपन्न बनाया गया है। इस इमरात की छत टिन की बनी है और छत के निचले हिस्से में भी विदेशी चीड़ की लकड़ी लगी है। पत्थर का इस्तेमाल इमरात में नहीं हुआ है। यह इमरात वातानुकूलित भी होगी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: