महाराष्ट्र में सियासी हलचल के बीच सोनिया गांधी से मिले शरद पवार, सरकार गठन को लेकर दिया बड़ा बयान

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर सियासी हलचल जारी है। इस बीच सोमवार शाम को एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से दिल्ली में मुलाकात की।

मुंबई में रविवार को अपने विधायकों के साथ बैठक करने के बाद शरद पवार दिल्ली में सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकत करने के लिए पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि इस दौरान शरद पवार ने महाराष्ट्र की मौजूदा सियासत को लेकर सोनिया गांधी से चर्चा की।

सोनिया गांधी से मुलाकात करने के बाद शरद पवार ने मीडिया से बात की। उन्होंने कहा, “मैं सोनिया गांधी से मिला। मैंने उन्हें महाराष्ट्र की राजनीतिक स्थिति के बारे में जानकारी दी। हमने सरकार के गठन के बारे में ठीक से चर्चा नहीं की है।”

शरद पवार ने कहा कि जनता ने हमें विपक्ष में बैठने का जनादेश दिया है। सरकार बनाने को लेकर शिवसेना से बातचीत के मुद्दे पर पवार ने मीडिया से साफ-साफ बात की। उन्होंने कहा कि सरकार गठन के मुद्दे पर न तो हमने शिवसेना से बात की है और न ही उन्होंने हमसे बात की है।

शरद पवार के इस बयान से महाराष्ट्र की तस्वीर बहुत हद तक साफ हो गई है। एनसीपी अध्यक्ष ने साफ-साफ यह बता दिया है कि सरकार गठन को लेकर एनसीपी और कांग्रेस की तरफ से कई कदम नहीं उठाया जा रहा है।

ऐसे में अब दो पार्टियों के पाले में गेंद है, और वो हैं शिवसेना और बीजेपी। इस बीच खबर है कि शिवसेना अपनी शर्तों पर बीजेपी को तैयार करने के लिए कोशिश में जुट गई है। शिवसेना की ओर से आरएसएस को एक पत्र लिखा गया है। पत्र में कहा गया है कि आरएसएश नितिन गडकरी के जरिए शिवसेना और बीजेपी में मधस्थता कराए।

शिवसेना द्वारा आरएसएस को पत्र लिखने के बाद दिल्ली में एक खास तस्वीर सामने आई। दिल्ली पहुंचे सीएम देवेंद्र फडणवीस ने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करने के बाद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि 5 नवंबर यानी मंगलवार तक शिवसेना का सरकार गठन पर बयान आ सकता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: