उत्तराखंड: तीसरी लहर की आशंका के बीच दून अस्पताल 12 साल का बच्चा कोरोना संक्रमित

उत्तराखंड में स्कूल को खोले की तैयारियों और तीसरी लहर की आशंका के बीच दून अस्पताल के पीआईसीयू में तीन दिन से भर्ती एक 12 साल का बच्चा कोरोना संक्रमित पाया गया है।

जिससे विभाग के अफसर और अस्पताल के डाक्टर सकते में हैं, क्योंकि अस्पताल में एक माह बाद कोई बच्चा संक्रमित पाया गया है। अस्पताल में रोजाना चार से पांच बच्चे विभिन्न बीमारियों को लेकर भर्ती हो रहे हैं। कोरोना जांच सभी की कराई जाती है। एक माह बाद कोई बच्चा संक्रमित मिला है। दून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डा. आशुतोष सयाना ने बच्चे के संक्रमित पाए जाने की पुष्टि की है।

उन्होंने बताया कि विभाग के एचओडी डा. अशोक कुमार के अंडर में बच्चा भर्ती है। बच्चे को ऑक्सीजन की जरूरत नहीं है और अब हालत सामान्य है। जिसके बाद उसकों अब सामान्य वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। विशेष निगरानी में बच्चे को रखा गया है। बच्चे के माता पिता यूपी के एक जिले के है। जो चार माह पूर्व बच्चे को यहां लाए थे। पहले बच्चा ओपीडी में भी अस्पताल आया था। बुधवार को इमरजेंसी में आया तो उसे भर्ती किया गया। उसे सात दिन से बुखार था। अब हालत सामान्य है, चिंता जैसी बात नहीं है।

उत्तरकाशी समेत चार जिलों में कोई केस नहीं
उत्तराखंड में आठ जिलों में दहाई से नीचे केस रहे, जबकि चार में कोई केस नहीं मिला। कुल नये कोरोना पॉजिटिव 41 केस सामने आए। राज्य में अभी भी 645 कोरोना एक्टिव केस मौजूद हैं। हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, शुक्रवार को चमोली, चंपावत, टिहरी और उत्तरकाशी में कोई नया केस नहीं मिला है। वहीं, अल्मोड़ा में पांच, बागेश्वर में एक, देहरादून में सात, हरिद्वार में चार, नैनीताल में पांच, पौड़ी में एक, पिथौरागढ़ में दो, रुद्रप्रयाग में पांच और यूएसनगर में 11 केस सामने आए। राज्य में अब संक्रमण दर 0.16 प्रतिशत और रिकवरी दर 95.89 प्रतिशत है। कोरोना के राज्य में 342023 केस सामने आए। इनमें 327979 केस ठीक हुए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: