BJP से हाथ मिलाते ही ‘क्लीन’ हो गए अजित पवार? सिंचाई घोटाले से जुड़े 9 मामलों में जांच बंद

महाराष्ट्र में बीजेपी को समर्थन देकर सरकार बनवाने वाले अजित पवार को एंटी करप्शन ब्यूरो से बड़ी राहत मिली है।

महाराष्ट्र एसीबी ने अजित पवार के खिलाफ सिंचाई घोटाले से जुड़े 9 बड़े मामलों में जांच बंद कर दिए हैं। खबरों में कहा गया है कि एंटी करप्शन ब्यूरो के अनुसार, सिंचाई घोटाले से जुड़े 3000 प्रोजेक्ट्स जांच के घेरे में हैं। इनमें से 9 मामलों को सबूतों के अभाव में बंद कर दिया गया है। खबरों में कहा गया है कि अभी तक जिन निविदाओं की जांच की गई है, उनमें अजित पवार के खिलाफ एसीबी को कुछ भी नहीं मिला है। एसीबी ने ये भी कहा ये केस सूबत के नहीं मिलने की वजह से बंद कर दिए गए हैं।

वहीं, अजित पवार को राहत मिलने कांग्रेस और शिवसेना ने हमला बोला है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, “बीजेपी-अजित पवार द्वारा महाराष्ट्र के ‘प्रजातंत्र चीरहरण अध्याय’ की असलियत उजागर। एक नाजायज सरकार द्वारा एंटी करप्शन ब्युरो को सब मुकदमे बंद करने का आदेश। खाएंगे और खिलाएंगे भी, क्योंकि ये ईमानदारी के लिए ‘जीरो टॉलरन्स’ वाली सरकार है। मोदी है तो मुमकिन है।”

शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा, “वाह वाह सत्ता का खेल, अब पता चला क्यूं हुआ ये मेल, जांच हुई फेल ना लेनी पड़ेगी कोई बेल”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: