गाजीपुर: आलिशा हत्याकांड का पुलिस ने किया पर्दाफाश, जीजा को किया गिरफ्तार, हुए कई बड़े खुलासे

उत्तर प्रदेश की गाजीपुर पुलिस ने आलिशा हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने लेने का दावा किया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में आलिशा के जीजा को गिरफ्तार किया है।

बुधवार को गाजीपुर के एसपी अरविंद चतुर्वेदी ने मीडिया से बात करते हुए आलिशा हत्याकांड का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि आलिशा की हत्या के आरोपी का नाम इमाम अहमद है, जो उसका जीजा है। एसपी ने बताया कि पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। एसपी ने बताया कि आरोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयोग किया गया धारदार हथियार और मृतका का चप्पल, बैग और मोबाइल बरामद कर लिया गया है। एसपी ने बताया कि आरोपी आलिशा से एकतरफा प्यार करता था। आरोपी को इस बात की खबर लगी थी कि आलिशा की दो लोगों से दोस्ती है। यही बात उसे नागवार गुजरी और उसने आलिशा की हत्या का प्लान बनाया।

मीडिया से बात करते हुए एसपी अरविंद चतुर्वेदी ने बताया कि आरोपी इमाम अहमद भांवरकोल थाना इलाके के पखनपुरा गांव का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार सुबह आरोपी ने फोनकर आलिशा को रौजा तिराहे पर बुलाया। वहां से वो आलिशा को किछौंछा शरीफ ले गया। आरोपी के मुताबिक, आलिशा ने किछौंछा जाने की इच्छा जताई थी। यही वजह है कि वो आलिशा को किछौंछा ले जाकर रास्ते में हित्या का प्लान बना लिया।

एसपी ने बताया कि किछौंछा से लौटते समय बिरनो थाना क्षेत्र के महमूदपुर ढेबुआं गांव में आलिशा का जीजा बाइक से उतरा और लघुशंका के लिए चला गया। पुलिस के मुताबिक, इसी बीच वो बैग में रखे धारदार हथियार को बाहर निकाला और अलिशा पर पीछे से हमला कर दिया। एसपी ने बताया कि इस दौरान आलिशा बेहोश हो गई। इसके बाद आरोपी आलिशा को पास की झाड़ियों में ले गया वहां पर उसने आलिशा की बेरहमी से हत्या कर दी। हत्या करने के बाद उसका चेहरा क्षत विक्षत कर दिया।

शनिवार की सुबह ग्रामीणों ने शव देखने के बाद पुलिस को इस बात की सूचना दी थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लिया। आलिशा के चेहरे को बुरी तरह से कुचल दिया गया था। उसकी पहचान नहीं हो पा रही थी। पुलिस ने परिजनों को पहचान के लिए बुलाया तो घरवालों ने कपड़े और हाथ के कड़े से शिनाख्त कर लिया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: