DehradunNews

गणतंत्र दिवस पर उत्तराखंड की झांकी ने मोहा सबका मन, मिला पहला पुरस्कार

74वें गणतंत्र दिवस परेड के लिए सर्वश्रेष्ठ मार्चिंग टुकड़ियों और झांकी की घोषणा कर दी गई है, जिसमें पंजाब रेजिमेंट को सर्वश्रेष्ठ मार्चिंग दल के रूप में घोषित किया गया है, और उत्तराखंड को सर्वश्रेष्ठ झांकी के लिए शीर्ष पुरस्कार मिला है।

रक्षा मंत्रालय के अनुसार, अलग-अलग परिणाम– एक न्यायाधीशों के पैनल द्वारा और दूसरा माईगव द्वारा आयोजित ऑनलाइन वोटिंग के माध्यम से घोषित किया गया है। विभिन्न राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और मंत्रालयों और विभागों की झांकी के अलावा तीन सेवाओं, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और अन्य सहायक बलों के माचिर्ंग दस्तों के प्रदर्शन का आकलन करने के लिए न्यायाधीशों के तीन पैनल नियुक्त किए गए थे।

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि पैनल के आकलन के आधार पर पंजाब रेजीमेंट को तीनों सेवाओं में सर्वश्रेष्ठ मार्चिंग टुकड़ी का पुरस्कार मिला। सीएपीएफ और अन्य सहायक बलों के बीच सर्वश्रेष्ठ मार्चिंग दल का पुरस्कार सीआरपीएफ के मार्चिंग दस्ते को मिला। राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की सर्वश्रेष्ठ तीन झांकियां क्रमश: उत्तराखंड (मानसखंड), महाराष्ट्र (साडे तिन शक्तिपीठ और नारी शक्ति) और उत्तर प्रदेश (अयोध्या दीपोत्सव) से थीं।

जनजातीय मामलों के मंत्रालय (एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय, ईएमआरएस) की झांकी को मंत्रालयों और विभागों में सर्वश्रेष्ठ नामित किया गया। केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के ‘जैव विविधता संरक्षण और वंदे भारतम’ नृत्य समूह को विशेष पुरस्कार दिया गया।

न्यायाधीशों के पैनल के अलावा, गणतंत्र दिवस परेड और बीटिंग द र्रिटीट समारोह ऑनलाइन देखने के लिए नागरिकों के ऑनलाइन पंजीकरण के लिए माईगव प्लेटफॉर्म पर एक वेब पेज बनाया गया था। माईगव द्वारा नागरिकों के लिए राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और मंत्रालयों और विभागों से अपनी पसंदीदा झांकी के लिए मतदान करने के लिए और साथ ही लोकप्रिय पसंद श्रेणी में मार्च करने वाले प्रतियोगियों के लिए एक ऑनलाइन पोल भी आयोजित किया गया था।

ऑनलाइन पोल के अनुसार, तीनों सेवाओं में सर्वश्रेष्ठ मार्चिंग टुकड़ी भारतीय वायुसेना की टुकड़ी थी। यहां भी, सीआरपीएफ के माचिर्ंग दल को सीएपीएफ और अन्य सहायक बलों में सर्वश्रेष्ठ के रूप में वोट दिया गया था। ऑनलाइन पोल के अनुसार, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की सर्वश्रेष्ठ तीन झांकियां क्रमश: गुजरात (स्वच्छ-हरित ऊर्जा कुशल), उत्तर प्रदेश (अयोध्या दीपोत्सव) और महाराष्ट्र (साडे तीन शक्तिपीठ और नारी शक्ति) से थीं। गृह मंत्रालय के तहत सीएपीएफ की झांकी को केंद्रीय मंत्रालयों और विभागों में सर्वश्रेष्ठ घोषित किया गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.