दिल्ली अब दूर नहीं! हल्द्वानी से दिल्ली के बीच बस सेवा शुरू, जानें क्या है समय और कितना लगेगा किराया?

कोरोना काल के चलते देश भर में लगाए गए लॉकडाउन के बाद से ही उत्तराखंड परिवहन निगम की बसें भी अपनी जगह पर खड़ी की खड़ी रह गईं।

अब राज्य सरकार द्वारा ये फैसला लिया गया है कि अब राज्य से बाहर और बाहरी राज्य से उत्तराखंड कमिर्शियल गाड़ियां आ सकेंगी। उनमें बसें भी शामिल हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि सीट की क्षमता के अनुसार बसों में सवारियां बैठाने की इजाजत भी दे दी गई है। यानी अब राज्य से दिल्ली और बाकी राज्यों में बस जा सकेंगी।

सरकार के इस फैसले के बाद से देवभूमि के लोगों को थोड़ी राहत जरूर मिली है। वहीं कुमांऊ मंडल में भी लोगों के चेहरे खिल उठे हैं। अब लोग अपने नौकरी के लिए दिल्ली आसानी से आ जा सकेंगे। आपको बता दें, कोरोना के चलते पिछले दिनों हल्द्वानी से दिल्ली के लिए 5 महीने से अधिक समय से बंद रोडवेज की बस बुधवार (आज) से शुरू होने जा रही है।

जानकारी के मुताबिक उत्तराखंड परिवहन निगम 10 बसों का संचालन करेगा, तो वहीं हल्द्वानी डिपो से सुबह आठ बजे पहली बस दिल्ली के लिए रवाना होगी। परिवहन निगम द्वारा जारी टाइम टेबल के अनुसार दिल्ली के लिए केवल साधारण बसे ही अभी संचालित की जाएगी। हल्द्वानी से बस चलने के बाद अंतिम स्टॉपेज कौशांबी में होगा। क्योंकि, दिल्ली सरकार ने दूसरे राज्यों की बसों की एंट्री के अनुमति फिलहाल नहीं दी है।

हल्द्वानी और काठगोदाम डिपो से दिल्ली के लिए पांच बसों का संचालन किया जाएगा। पहली बस सुबह 8:00 बजे, दूसरी बस 9:00 बजे, तीसरी बस दोपहर 12:00 बजे, चौथी बस दोपहर 1:00 बजे और पांचवी बस रात 8:00 बजे हल्द्वानी डिपो से रवाना होंगी।

  • कौशांबी दिल्ली से बस दोपहर 12:30 बजे हल्द्वानी पहुंचेगी। जिसका किराया ₹625 होगा
  • धरमदर हल्द्वानी दिल्ली शाम 5:00 बजे रवाना होगी, जिसका किराया ₹770 होगा
  • बॉस बगड़ हल्द्वानी दिल्ली शाम 6:00 बजे बजे रवाना होगी जिसका किराया ₹790 होगा
  • देवाल हल्द्वानी दिल्ली शाम 6:30 बजे रवाना होगी जिसका किराया ₹740 होगा
  • हल्द्वानी नैनीताल दिल्ली शाम 4:15 रवाना होगी जिसका किराया ₹415 होगा

यह सभी बसें हल्द्वानी से होकर गुजरेगी, जबकि हल्द्वानी से दिल्ली का किराया 345 होगा। परिवहन विभाग का कहना है कि यात्रा से पहले सभी बसों को सैनेटाइज किया जाएगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: