ये है उत्तराखंड की स्पेशल मिठाई, बेहद खास मौकों पर बनाई जाती है

उत्तराखंड अपने पर्यटन डेस्टिनेशन के लिए जाना जाता है। यहां घूमने की सैकड़ों जगह है, जहां हर साल लाखों की तादाद में लोग आते हैं। लेकिन क्या आप उत्तराखंड की स्पेशल मिठाई अरसा के बारे में जानते हैं।

ये गढ़वाल और कुमाऊं इलाके की एक प्रसिद्ध स्वीट डिश है। जो हर खुशी के मौके पर उपहार के तौर पर मेहमानों को दी जाती है। आइए आपको बताते हैं कि कैसे बनाई जाती है यह खास स्वीट डिश।

रेसिपी और बनाने का तरीका
भीगे चावल 250 ग्राम
गुड़ 100 ग्राम
सौंफ 2/3 टी स्पून
तिल 1/2 टी स्पून         
नारियल का बूरा 2 कप             
किशमिश 3/4 टी स्पून
पानी 1 कप
तेल या रिफाइंड जरूरत के हिसाब से

अरसा बनाने के लिए सबसे पहले चावल को करीब 6 घंटे पहले भिगोकर रख दें। जब 6 घंटे बीत जाए और चावल थोड़ा मुलायम हो जाए तो उसे पीस लें। पिसे चावल को आटे की तरह साफ छानकर अलग रख लें। उसके बाद मीडियम आंच पर एक गहरा पैन चढ़ाएं और गुड़ की दो तार की चाश्नी बनाएं। गुड़ के इस घोल को अच्छे से पकाएं, इस बात का ध्यान रखें कि गुड़ जले नहीं। घोल बनने के बाद उसमें पिसे हुए चावल का आटा मिला लें। पिसे हुए चावल को एक साथ नहीं डालें। घोल को एक हाथ से चलाते रहे हैं और उसमें धीरे-धीरे चावल का आटा डालें। ध्यान रखें इसमें गुठली नहीं बननी चाहिए। जायका बढ़ाने के लिए इसमें सौंफ, नारियल का बूरा, किशमिश और तिल भी मिलाएं। उसके बाद इसे ठंडा करने के लिए किसी बर्तन में निकालकर अलग रख दें।

इसके बाद धीमी आंच में एक पैन में तेल गर्म करने के लिए रखें। गर्म तेल में ठंडा हो चुके मिश्रण से छोटी-छोटी लोइयां बनाकर पकोड़ी की तरह गरम तेल में सुनहरा होने तक तलें। जब इसका रंग सुनहरा भूरा हो जाए तो उन्हें तेल से निकाल लें। आपकी स्वीट डिश अरसा तैयार है।  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: