ANI इंटरव्यू: राम मंदिर समेत कई मुद्दों पर पीएम ने तोड़ी चुप्पी, कांग्रेस ने कहा जुमलों का साक्षात्कार

पीएम मोदी ने समाचार एजेंसी ANI को इंटरव्यू दिया है। जिसमें उन्होंने राम मंदिर, उर्जित पटेल के इस्तीफे समेत कई मुद्दों पर अपनी चुप्पी तोड़ी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर निर्माण और RBI गर्वनर उर्जित पटेल के इस्तीफे पर चुप्पी तोड़ी है। समाचार एजेंसी ANI को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि राम मंदिर का हल कानूनी प्रक्रिया से ही निकलने दिया जाए। इस प्रक्रिया के बाद सरकार के तौर पर हमारी जो भी जिम्मेदारी होगी हम उसे पूरी करेंगे। इंटव्यू में पीएम ने रिजर्व बैंक के गवर्नर पद से उर्जित पटेल के इस्तीफे पर विपक्ष के आरोपों को खारिज किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि उर्जित पटेल 6-7 महीने से इस्तीफा देना चाह रहे थे। राजनीतिक दबाव का तो सवाल ही नहीं उठता।

5 राज्यों में हार की बताई ये वजह

इंटरव्यू में प्रधानमंत्री मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक, हाल में 5 राज्यों में विधानसभा चुनावों में मिली हार पर भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि तेलंगाना और मिजोरम में तो बीजेपी सत्ता में आने वाली नहीं थी। छत्तीसगढ़ में साफ तौर पर बीजेपी को हार जरूर मिली है, लेकिन मध्यप्रदेश और राजस्थान में किसी को बहुमत नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि हमारे लोग 15 साल की सत्ता विरोधी लहर के साथ चुनावी मैदान में थे।

नोटबंदी पर यह बोले पीएम

पीएम मोदी 2016 में की गई नोटबंदी को झटका नहीं मानते। उन्होंने कहा कि सरकार ने पहले ही चेतावनी दी थी कि अगर आपके पास काला धन है तो आप इसे जमा करा सकते हैं। पेनाल्टी दे दें तो आपकी मदद की जाएगी, लेकिन लोगों को लगा कि दूसरों की तरह मोदी भी कोई कार्रवाई नहीं करेगा इसलिए लोग आगे नहीं आए।

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री के इस इंटरव्यू को जुमलों का साक्षात्कार बताया। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक ट्वीट में कहा है कि, ”न जमीनी हकीकत की दरकार, न किए हुए वादों से सरोकार, जुमलों भरा मोदीजी का साक्षात्कार।”

इसके साथ ही सुरजेवाला ने पीएम मोदी को उनके वादों को याद दिलाया। उन्होंने कहा कि देश आज के दिन नोटबंदी, गब्बर सिंह टैक्स, बैंक फ़्रॉड, काला धन वालों की मौज, 15 लाख हर खाते में, राफेल का भ्रष्टाचार,  महंगाई,  राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़, किसान पर मार और अच्छे दिनों के इंतज़ार में है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: